HIMACHAL NAZAR | भ्रष्टाचार एक ऐसा मुद्दा है जो पहले भी होता था, आज भी हो रहा है और आने वाले समय में भी होता रहेगा। आपको जो खबर बता रहे हैं वह हिमाचल की तो नहीं पर खबर ही कुछ ऐसी थी कि लिखना जरूरी लगा। खबर है देश के 30वें राज्य यानी तेलंगाना की। यहां एक अधिकारी रिश्वत देने वाले लोगों से इतना परेशान हो गया कि उसने अपने दफ्तर के अंदर एक फट्टी टंगा दी। फट्टी में लिखा ‘ मैं रिश्वत नहीं लेता‘।

यह अफसल तेलंगाना के करीमनगर में नॉर्दर्न पावर डिस्ट्रीब्यूशन कॉर्पोरेशन लिमिटेड विभाग में एडिशनल डिवीजनल इंजीनियर कार्यरत हैं। इनका नाम है पदोती अशोक। दफ्तर में बैठे हुए अशोक की तस्वीर जिसमें पीछे फट्टी में ये सब लिखा गया है सोशल मीडिया में वायरल हो गई है। ठीक वैसे ही जैसे हिमाचल के लाहुल जिला के एक आईआएस राम सिंह वायरल हो गए थे। वही जो दस किलोमीटर दूर सब्जी लाने पैदल निकल जाते हैं।

मीडिया में छप रही खबरों के मुताबिक पदोती अशोक ने दफ्तर में यह बोर्ड एक माह पहले ही लगाया है। इसमें तेलगू में लिखा गया है जिसका हिंदी तर्जुमा है ‘मैं रिश्वत नहीं लेता’ और अंग्रेजी में लिखा है ‘ i am uncorrupted’। दि न्यूज मिनट में छपी खबर के मुताबिक अशोक बताते हैं कि उनके दफ्तर में रोजान लोग कोई न कोई काम करवाने आते और रिश्वत देने लगते। वह लोगों को समझा कर थक गए कि मैं रिश्वत नहीं लेता। इसलिए यह बोर्ड ही लगा दिया।

वह कहते हैं कि मैं रिश्वत के खिलाफ हूं इसका मतलब यह नहीं है कि मैं कह रहा हूं कि दूसरे भ्रष्ट हैं। अब ये भाईसाहब तो मिसाल हैं सबके लिए, लेकिन हम बात करें हिमाचल की तो यहां सरकार जो खुद विपक्ष में थी और उस दौरान जब कांग्रेस सत्ता में थी एक चार्जशीट लाई थी खोद कर। उस चार्जशीट का क्या हुआ जरा यह ही बता दे तो बहुत है भ्रष्टाचार पर बात करना तो बहुत दूर की बात है।

विभागों की बात करें तो आपको अच्छे से पता है हिमाचल में कौन सा विभाग कितना भ्रष्ट है। इसलिए या तो खुद आवाज उठाएं या इंतजार करें कि किसी दिन उन भ्रष्टाचारियों को जमीर इतना जाग जाए कि खुद ही ऐसा बोर्ड लगा दें।

ये भी पढ़ें

कस्तूरी 20 साल से बच्चों के दीदार के इंतजार में… आप जानते हैं इनके बच्चों को?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here