HIMACHAL NAZAR | हिमाचल के इतिहास में संभवतः पहली बार चरस के साथ 31 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। हर रोज अखबारों मेंं चरस और चिट्टे के साथ हुई गिरफ्तारी की खबरें पढ़ने को मिलती हैं, लेकिन कुल्लू जिला पुलिस ने इस बार बड़ी कार्रवाई करते हुए मणिकर्ण घाटी के पीणसू थाच से 31 लोगों को चरस, चरस के बीज के साथ गिरफ्तार किया है।

मणिकर्ण घाटी की जिस जगह पुलिस रेड में लोग पकड़े गए वहां बाकायदा टेंट लगाकर चरस मलाई और गांजा निकालने का काम किया जाता था। इस कार्रवाई के बाद कुल्लू एसपी गौरव सिंह फिर से सुर्खियों में हैं और हर जगह उनकी तारीफ हो रही है। आपकों बता दें कि एसपी गौरव सिंह के नाम हिमाचल में सबसे कम उम्र में एसपी बनने का रिकार्ड है।

एसपी गौरव के बारे में यह भी पढ़े http://himachalnazar.com/sp-gaurav-singh-sp-kullu-youngest-sp-of-himachal/

कुल्लू एसपी गौरव सिंह

गिरफ्तार किए गए लोगों में से 18 नेपाली मजदूर औऱ 13 स्थानीय लोग हैंं। आरोपियों में पांच महिलाएं हैं। नेपाली मजदूरों को 500 रुपए दिहाड़ी चरस मलाई के लिए दी जाती थी। मणिकर्ण घाटी की पीणसू थाच जगह पहुंंचने के लिए पुलिस को करीब 20 किलोमीटर पैदल चढ़ाई करनी पड़ी। गिरफ्तार हुए लोगों की संख्या के हिसाब से पुलिस की इस कार्रवाई को हिमाचल के इतिहास की सबसे बड़ी कार्रवाई माना जा सकता है।

पुलिस रेड में करीब 2 किलो 900 ग्राम चरस पकड़ी गई है। इसके साथ ही टैंटों से करीब 5 हजार चरस के पौधे और एक क्विटंल चरस भी पुलिस के हाथ लगा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here