Monday, September 20, 2021
Google search engine
HomeNewsकोरोना के केस आना डरने की बात नहीं... तो क्या है घबराने...

कोरोना के केस आना डरने की बात नहीं… तो क्या है घबराने की बात.. पढ़ें/

HIMACHAL NAZAR :- अब तक कोरोना से जैसे-तैसे बचे हुए हिमाचल में लगातार वायरस के मामले सामने आ रहे हैं. हमीरपुर जिला में एक ही दिन में अब तक के सबसे ज्यादा 31 केस आज सामने आए हैं. हालांकि बाहरी राज्यों में काम कर रहे हिमाचलियों की वापसी से यह बात साफ थी कि प्रदेश में कोरोना के मामले बढ़ेंगे और हुआ भी वही. इनमें सबसे राहत भरी बात यह है कि अब तक ज्यादातर कोरोना केस प्रशासन की ओर से बनाए गए कोरोना क्वारंटीन सेंटर से ही सामने आ रहे थे.

ये वो केस हैं जिनकी ट्रैवल हिस्ट्री दिल्ली, महाराष्ट्र या दूसरे राज्यों की हैं और कोरोना पॉजिटिव आने वाले व्यक्ति पहले ही इंस्टीच्यूशनल क्वारंटीन हैं, लेकिन मंडी जिला में बुधवार रात आए 4 कोरोना मामलों ने सबकी नींद उड़ा दी है. ये चारों मामले इसलिए भी गंभीर है, क्योंकि इनमें से किसी की हालिया ट्रैवल हिस्ट्री राज्य से बाहर की नहीं है. इनमें से एक युवती जरूर कुछ समय पहले ऊना जिला से मंडी जिला आई थी. इसके अलावा पिछले 15-20 दिनों में कोई भी राज्य से बाहर नहीं गया है. ऐसा मंडी प्रशासन का कहना है.

कोरोना केस में सबसे जरूरी और अहम कड़ी होती है कॉन्टेक्ट हिस्ट्री. हिमाचल में क्योंकि दिल्ली, महाराष्ट्र जैसे हालात नहीं हैं. इसलिए यदि कोई कोराना पेशेंट सामने आता है तो उसकी हिस्ट्री पता की जाती है. इससे साफ हो जाता है कि व्यक्ति को कोरोना कहां हुआ होगा. इसके साथ ही उस जगह कोरोना की चेन तोड़ने का काम भी आसान हो जाता है, लेकिन मंडी जिला में सामने आए 4 कोरोना केस में किसी की भी हालिया बाहर की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं मिल पा रही है. ये मरीज क्वारंटीन सेंटर से नहीं आए हैं. ये मरीज घर से ही पॉजिटिव मिले हैं.

साथ ही इनमें से एक मरीज तो फ्लू OPD से सामने आया है. उपायुक्त मंडी ऋग्वेद मिलिंद ठाकुर ने बताया कि सभी कोरोना मरीजों की कॉन्टेक्ट और ट्रैवल हिस्ट्री का पता लगाया जा रहा है, क्योंकि इन मरीजोंं की फिलहाल कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है इसलिए इनके आस-पास के कॉन्टेक्ट ट्रेस कर उन सभी का सैंपल लिया जाएगा. ताकि यह पता लगाया सके कि कहीं कोई इनके कॉन्टेक्ट में आने वाला व्यक्ति ही पहले से कोरोना पॉजिटिव तो नहीं था. हालांकि उपायुक्त मंडी ने वायरस के कम्युनिटी ट्रांसफर से इनकार कर दिया है.

क्योंकि मरीजों की कुछ ठोस बाहर की ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है. ऐसे में अब इनके आस-पास के लोगों का टेस्ट भी किया जाएगा, क्योंंकि हो सकता है उनसे इन लोगों को कोरोना वायरस हुआ हो.

ये सवाल हैं जरूरी

बाहर नहीं गए तो कोरोना वायरस की चपेट में कैसे आए
कहीं कोई मरीज ट्रैवल हिस्ट्री तो नहीं छिपा रहा
क्या कोरोना पॉजिटिव के आस-पास कोई ऐसा शख्स तो नहीं जिसने ट्रैवल हिस्ट्री छिपाई

गौरतलब हो कि हमीरपुर जिला में एक महिला और एक पुरुष और कांगड़ा जिला में एक पुलिस जवान भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया था. इनकी कोरोना कॉन्टेक्ट हिस्ट्री का भी पूरी तरह से खुलासा नहीं हो पाया था.

इसलिए जरूरी है कि लोग सावधान रहें. बिना किसी आवश्यक कार्य के घर से बाहर ना निकलें और अगर निकलें भी तो मास्क पहन कर. साथ ही बाहर जाकर वापस घर में दाखिल होने से पहले हाथ-पांव मुंह अच्छे धोए यहां तक कि सामान को भी सैनिटाइज करें.

RELATED ARTICLES
- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments

error: Content is protected !!